Prasar Bharati

“India’s Public Service Broadcaster”

Pageviews

KEY MEMBERS – AB MATHUR, ABHAY KUMAR PADHI, A. RAJAGOPAL, AR SHEIKH, ANIMESH CHAKRABORTY, BB PANDIT, BRIG. RETD. VAM HUSSAIN, CBS MAURYA, CH RANGA RAO,Dr. A. SURYA PRAKASH,DHIRANJAN MALVEY, DK GUPTA, DP SINGH, D RAY, HD RAMLAL, HR SINGH, JAWHAR SIRCAR,K N YADAV,LD MANDLOI, MOHAN SINGH,MUKESH SHARMA, N.A.KHAN,NS GANESAN, OR NIAZEE, P MOHANADOSS,PV Krishnamoorthy, Rafeeq Masoodi,RC BHATNAGAR, RG DASTIDAR,R K BUDHRAJA, R VIDYASAGAR, RAKESH SRIVASTAVA,SK AGGARWAL, S.S.BINDRA, S. RAMACHANDRAN YOGENDER PAL, SHARAD C KHASGIWAL,YUVRAJ BAJAJ. PLEASE JOIN BY FILLING THE FORM GIVEN AT THE BOTTOM.

Thursday, July 14, 2016

My Retired Life : सुश्री निर्मला कुमारी :एक कलाकार हृदय की स्वामिनी !


आकाशवाणी और दूरदर्शन दोनों महत्वपूर्ण लोकसंचार माध्यमों को अपनी गुणवत्ता पूर्ण सेवाएं देनेवाली सुश्रीनिर्मला कुमारी से हालांकि मेरी प्रत्यक्ष मुलाकात लगभग उनके रिटायरमेंट के दिनों में ही हुई किन्तु जब हुई तो अभिन्नता से हुई ।मैं सितम्बर वर्ष 2003 में अपनी नौकरी की लगभग अंतिम पाली में आकाशवाणी लखनऊ जब आया और मुझे सुगम संगीत के कार्यक्रम प्रबन्धन तथा सम्पूर्ण संगीत अनुभाग के प्रशासन की जिम्मेदारी मिली तो धीरे धीरे मेरा लखनऊ के कलाकारों से परिचय होना शुरू हुआ ।सेवानिवृत्त संगीत संयोजक श्री केवल कुमार (जो पूर्व परिचित थे )इस मामले में कुछ हद तक मेरे मददगार बने । 

मैने बरसों से केन्द्र द्वारा लगभग भुला दिए जा चुके कलाकारों को आकाशवाणी संगीत की गुणवत्ता के तराज़ू पर तौलते हुए उनकी पुन: सेवाएँ लेनी शुरू कीं ।उन दिनों कुछ जाने कुछ अनजाने कारणों से केन्द्र के कुछ कलाकार अच्छा होने के बावज़ूद हाशिये पर जा चुके थे ।मैने उनसे कौंसिलिंग शुरू की ।असलियत यह थी कि (मेरे विचार में) जिन केन्द्रों पर कई कम्पोजर होते हैं उनके अपनी च्वाइस से कलाकारों के अलग अलग ग्रुप बनने लगते हैं और ऐसे में कुछ स्वाभिमानी कलाकार अलग थलग पड़ जाया करते हैं ।बहरहाल केन्द्र की सूचीबद्ध "ए"ग्रेड की कलाकार सुश्री निर्मला जी से पहले मेरी फोन पर बात हुई और फिर तय समय पर आफिस में आमने सामने बैठकर ।वे अभी दूरदर्शन लखनऊ की सेवा में थीं इसलिए बहुत फ्रिक्वेंटली आकाशवाणी के संगीत कार्यक्रम में भाग ले पाने में असमर्थ थीं ।बतौर उदघोषिका अपने कैरियर की शुरुआत करने वाली निर्मला जी अपने समय की बेहतरीन समाचार वाचिका के शिखर पर थीं और साथ ही संगीत की उच्च कलाकार भी थीं ।सुकन्या बालकृष्णन,नीति रवीन्द्रन,मीनूरानी खन्ना,शोभना जगदीश,सरीखे पापुलर न्यूज रीडरों में उनका भी नाम शुमार था ।1968-69के दौरान उन्हें संगीत के लिए राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार मिला था । 2008 में अपने रिटायरमेंट के बाद वे मेरे हर म्यूजिकल प्रोजेक्ट में सक्रिय और रुचिकर सहभागिता देती रहीं ।मैनें पाया कि अब भी गजब है उनकी आवाज़ की कशिश,और भरपूर है उनमें मेहनत करने का जज़्बा ।मैनें उनकी मखमली आवाज़ का भरपूर उपयोग आकाशवाणी लखनऊ के लिए तैय्यार किये जाने वाले कार्यक्रमों में तो किया ही,उन्हें MABसदस्य भी बनाया था ।

20 अप्रैल 1948 को जन्मीं निर्मला जी ने लखनऊ विश्वविद्यालय से अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त की ।बचपन से वे संगीतकार मदन मोहन और गायिका लता मंगेशकर की बहुत बड़ी प्रशंसक रही हैं और गायन क्षेत्र में वही इनके आदर्श बने रहे ।विदित है कि इस जोड़ी ने कितने ही मधुर गीत,गज़ल और नज़्म संगीत की दुनियां को दिए हैं जो अमर हो चुके हैं ।मन्ना डे,मास्टर मदन,सुरैय्या आदि की गायकी से भी ये प्रभावित रहीं ।इनकी संगीत की ढेर सारी रिकार्डिंग्स यू ट्यूब पर सुनी जा सकती है ।अनूप जलोटा सहित देश के अनेक नामी गिरामी कलाकारों के साथ निर्मला जी लाइव स्टेज शो भी कर चुकी हैं ।संगीत को ईश्वर की देन मानने वाली निर्मला जी रिटायरमेंट के बाद लखनऊ में ही प्राय: रहते हुए संगीत की दुनियां में भरपूर समय दे रही हैं ।साथ साथ ओशो,ब्रम्ह कुमारीज़,आर्ट आफ़ लिविंग के दर्शनों का चिन्तन मनन करती हैं ।इन्होंने बातचीत के दौरान ब्लाग रिपोर्टर को अपना फेवरेट कोटेशन भी शेयर किया जो इस प्रकार है;

"जिन्दगी तुझसे हर इक सांस पे समझौता कर लूं,
शौक जीने का है मुझको मगर इतना तो नहीं !"

हमेशा अपने चेहरे पर हंसते हुए फूल जैसी मुस्कान बिखेरती रहने वाली निर्मला जी के लिए प्रसार भारती परिवार उनकी सेवाओं के लिए तो उनका आभार व्यक्त करता ही है साथ ही उनके स्वस्थ और दीर्घ जीवन की कामना भी करता है ।

ब्लाग रिपोर्ट- प्रफुल्ल कुमार त्रिपाठी,लखनऊ ।मोबाइल नं0-9839229128,darshgrandpa@gmail.com

No comments:

Post a Comment

please type your comments here

PB Parivar Blog Membership Form