Prasar Bharati

“India’s Public Service Broadcaster”

Pageviews

KEY MEMBERS – AB MATHUR, ABHAY KUMAR PADHI, A. RAJAGOPAL, AR SHEIKH, ANIMESH CHAKRABORTY, BB PANDIT, BRIG. RETD. VAM HUSSAIN, CBS MAURYA, CH RANGA RAO,Dr. A. SURYA PRAKASH,DHIRANJAN MALVEY, DK GUPTA, DP SINGH, D RAY, HD RAMLAL, HR SINGH, JAWHAR SIRCAR,K N YADAV,LD MANDLOI, MOHAN SINGH,MUKESH SHARMA, N.A.KHAN,NS GANESAN, OR NIAZEE, P MOHANADOSS,PV Krishnamoorthy, Rafeeq Masoodi,RC BHATNAGAR, RG DASTIDAR,R K BUDHRAJA, R VIDYASAGAR, RAKESH SRIVASTAVA,SK AGGARWAL, S.S.BINDRA, S. RAMACHANDRAN YOGENDER PAL, SHARAD C KHASGIWAL,YUVRAJ BAJAJ. PLEASE JOIN BY FILLING THE FORM GIVEN AT THE BOTTOM.

Wednesday, June 28, 2017

Retierment Message - Parthsarthi Thapliyal, Prog. Officer, Akashvani Delhi



30 जून को सेवानिवृति का दिन है, यद्यपि मैं नही चाहता था कि बन्दमुठ्ठी खुले लेकिन प्रमोद जी दीपा जी जगमोहन जी जयश्री जी, पी एस ए अध्यक्ष आर श्रीनिवासन और अन्य सदस्य मित्रों के प्यार ने मुझे तरल बना दिया। सच कहूं उन्होंने मुझे ऐसा नही बताया था जैसा चित्रों में है। मेरा लंबा कार्यकाल मारवाड़ में बीता, जहां मैं जीवन के (1983- 2011)29 वर्ष जीवन को जिया हूँ। जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, नागौर,और कुछ दिन बीकानेर आकाशवाणी में भी सेवा का अवसर मिला। मारवाड़ की अपणायत मेरे दिल मे समायी है। ...सच कहूं रेडियो कार्यक्रम निर्माण और प्रसारण का अद्भुत अनुभव रहा।
किसी का नाम लूं किसीका नही तो अन्याय होगा। जोधपुर, पाली, जालोर, सिरोही, बाड़मेर, जैसलमेर के एक एक गांव और ढाणी से मेरा जुड़ाव रहा है। असंख्य रेडियो श्रोता आकाशवाणी जोधपुर के युववाणी, नमस्कार कार्यक्रमों के माध्यम से जुड़े रहे, जहां मेरा सीधा संवाद रहा। सेवा के आरंभिक दिनों में (1978 -1980)आकाशवाणी नजीबाबाद से प्रसारित ग्राम जगत कार्यक्रम के माध्यम से गढ़वाल और कुमाऊं के श्रोताओं से अत्यंत अपनत्व मिला। सेवा के इस छोर पर राष्टीय राजधानी क्षेत्र और राष्ट्रीयस्तर पर प्रसारण व्यवस्थाओं का खूब आनंद मिला।
मैं अपने श्रोता मित्रों और शुभचिंतकों का हृदय के अंतस्थल से आभार व्यक्त करता हूँ, जिन्होंने मुझे अपना प्यार, दुलार और सत्कार दिया। असंख्य श्रोता मुझे बार बार जोधपुर आने का न्योता देते रहे लेकिन मैं पिछले पांच वर्षों में जोधपुर न जा सका। इसका ये मतलब नही की जोधपुर से प्यार कम हो गया। मारवाड़ दिल मे बैठा है। आभार। नमस्कार।


1 comment:

  1. मैं चंद्रशेखर, रिटायर्ड प्रवर श्रेणी लिपिक, आकाशवाणी, विशाखापट्टणम से श्री पार्थसारथी थपलिवाल जी(अगर हिंदी में आपका नाम का सही उच्चारण न कर पाया तो क्षमाप्रार्थी रहूंगा) को उलके सेवा निवृत्ती पर मेरा सादर बधाई के साथ साथ उनके भावी जीवन में सुख-शांती से भरपूर आनंद का कभी भी अंत न हो, की कामना करता हूं । आपके मन में बसी आपकी मेवाड का प्रेम आपके ब्लॉग से अनर्गल बहता दिख रहा है । आपके चाहने वालों की कमी कहीं भी न हो और आप निरंतर रेडियो से जुडे रहें और नये पीढी के युव वाणी को अपना पथ-प्रदर्शन करते रहें । हम आपसे ये उम्मीद बराबर रखते हैं । मंगल कामनाओं के साथ . . .

    ReplyDelete

please type your comments here

PB Parivar Blog Membership Form